औरतों से कयामत में पहला सवाल क्या होगा ? | Islamic Hadees in Hindi

Qayamat me aurton se Pahla sawal kya hoga? Islamic hadees Hindi mein
औरतों से कयामत में पहला सवाल क्या होगा ? | Islamic Hindi Informational Story

इर्शाद-ए-नबवी हजरत मुहम्मद मुस्तफा (स.अ.व)


हजरत अनस (रज़ि) से रिवायत है कि आप (स.अ.व) ने फरमाया - “कयामत के दिन औरतों से सबसे पहले नमाज के मुतअल्लिक सवाल किया जाएगा, कि पाबन्दी के साथ वक्त पर अदा किया था या नहीं ? फिर शौहर के मुतअल्लिक सवाल किया जाएगा, कि उस के साथ कैसा बर्ताव किया था ?”

इस हदीस के फायदे में लिखते हैं कि - हश्र का मैदान जो कल्ब-व-जिगर को पिघला देने वाला होगा । उसमें आम मुसलमानों से चाहे वह मर्द हो या औरत, सबसे पहला सवाल नमाज के मुतअल्लिक होगा ।


हजरत अनस (रज़ि.) से मरवी है कि आप (स.अ.व) ने फरमाया - “कयामत में सबसे पहला हिसाब नमाज का होगा । अगर ये सही निकला तो दूसरे आमाल भी सही निकलेंगे । और अगर इसमें गड़बड़ी हुई तो दूसरे आमाल भी गड़बड़ ही होंगे ।


औरतें अकसर नमाज में भी कोताही करती हैं । नई उमर की जवान औरतें अकसर बहाने बनाती हैं । जैसे : बच्चे का पेशाब कपड़े में लगा था वगैरह वगैरह ।

लेकिन अफसोस है ! कि ये बहाने कयामत में नहीं चलेंगे । जब सजा मिलेगी तब पता चल जाएगा । इसीलिए औरतों को चाहिए की पाबंदी करें । घर की औरतों को चाहिए की बच्चे छोटी उमर से ही नमाज की पाबन्द हों । शुरू उम्र की पाबन्दी का असर पूरी उम्र तक बाकी रहता है । फराईज़-ए-शरिया के मुताबिक औरतों से उसके शौहर के हुकूक और उनके खिदमत के बारे में सवाल होगा । आजकल के दौर की वो औरतें जो नौकरियां करती हैं । वो ज्यादातर शौहर की खिदमत में कोताह होती हैं । हत्ता कि ऐसी औरतों से खाने तक की सहूलत नहीं मिलती । ऐसी कोताही कल कयामत में काबिल-ए-गिरफ्त होगी ।


आखिर में अल्लाह तआला से दुआ है कि अल्लाह पाक हम सबको इस हदीस को समझने और इसपर अम्ल करने की तौफीक अता फरमाए ।आमीन !

यह भी पढ़ें : कयामत और आखिरत की हैरत अंगेज मालूमात 

Muhammad Saif is the author and Editor of Aazad Hindi News Website.

एक टिप्पणी भेजें

कृप्या स्पैम ना करें। आपके कमेंट्स हमारे द्वारा Review किए जाएंगे । धन्यावाद !