Blogger url se m=1 kaise remove kare in Hindi (Problem fixed)

Blogger url se m=1 kaise remove kare in Hindi | Blogspot URL end se m=1 kaise delete kare ya hataye | Blogger ?m=1 problem issue fixed.

Blogger url se m=1 kaise remove kare in Hindi



अगर आप blogger blog URL से m=1 के वजह से डुप्लीकेट कंटेट की समस्या का सामना कर रहे हैं, तो आज की पोस्ट आपके बहुत काम आने वाली है। सबसे पहले यह जानते हैं, कि blogger URL se m=1 kaise remove kare और अपने ब्लॉग की SEO कैसे बढ़ाएं।


किसी भी वेबसाईट को रैंक करवाने के लिए उसे आर्टिकल्स का On-page और Off-page SEO करना पड़ता है तभी जाकर वह ब्लॉग आर्टिकल गूगल में रैंक करता है। मगर तब क्या होगा, जब एक ही आर्टिकल दो अलग-अलग यूआरएल में लिखा जाए? जी हां ! हम ब्लॉग्गर की ही बात कर रहे हैं। Blogger CMS किसी भी आर्टिकल को दो अलग-अलग URL में प्रस्तुत करता है। एक desktop के लिए, और दूसरा mobile के लिए ।


What is Blogger m=1 Issue?

अकसर दिखने वाला "m=1" query parameter जो कि किसी भी ब्लॉग आर्टिकल के URL के Last में होता है, वह आपके वेबसाईट के mobile version के लिए होता है। जब आप अपने वेबसाईट को मोबाईल पर खोलते हैं, तो यह खुद ही blog URL ke last में जुड़ जाता है।


ब्लॉग्गर सीएमएस आपके वेबसाईट के canonical URLs को desktop में दिखाता है, जबकि मोबाईल पर खोलने पर उनके आखिर में ?m=1 जुड़ जाता है। इस आर्टिकल में आज हम आपको इसी के बारे में बता रहे हैं। 


Desktop Version: https://aazadhindii.blogspot.com/

Mobile Version: https://aazadhindii.blogspot.com/?m=1


हम आपको URL se m=1 remove/delete करने के लिए स्क्रिप्ट दे तो देंगे, लेकिन हम नहीं चाहते हैं कि आप ऐसा करें। अगर आप अपने blogspot URL से m=1 को remove करना चाहते हैं तो आपको यह जान लेना चाहिए कि ऐसा करने से आपके ब्लॉग की SEO पूरी तरह बर्बाद हो जाएगी। इतना ही नहीं, आपके ब्लॉग की रैंकिंग भी बुरी तरह से कम हो जाएगी। जो हम नहीं चाहते हैं। हम यहां आपके ब्लॉग की रैंकिंग को बढ़ाना चाहते हैं, घटाना नहीं ।


चेतावनी : कृप्या नीचे दी गई हर जानकारी को सावधानीपूर्वक जरूर पढ़ें, नहीं तो आपको अनिश्चित नुकसान हो सकता है। हर स्टेप को सावधानी से पूरा करें, और HTML Theme में कुछ भी बदलाव करने से पहले theme का backup जरूर लें लें, ताकि गड़बड़ी होने पर restore किया जा सके।

यह भी पढ़ें : Medium kya hai? Medium me free blog kaise banaye Hindi mein


Blogger URL se m=1 ko kaise hataye ?

इसका सीधा सा जवाब है, नहीं । प्रैक्टिकली ऐसा करना नामुमकिन है। हम blogger URL end से m=1 को नहीं हटा सकते हैं, क्योंकि हमारे पास ब्लॉग्गर के रूट का एक्सेस नहीं होता है। और ना ही ऐसा करना जरूरी है। 


आप ब्लॉग आर्टिकल के URLs से m=1 को हटा तो नहीं सकते हैं, लेकिन, आप इसे छिपा जरूर सकते हैं। ऐसा करने के लिए आपको इसके html theme code में थोड़ा सा बदलाव करना होगा। 


Blogger URL se m=1 ko kaise delete kare?

ब्लॉग्गर अपने यूजर्स के लिए दो तरह के URLs बनाता है, मोबाईल और डेस्कटॉप के लिए अलग-अलग यूआरएल । यह वही केस है, जिसमें एक आर्टिकल दो अलग-अलग लिंक से खुलता है। इसे सुधारने के लिए हम डेस्कटॉप यूआरल को canonical बना सकते हैं और m=1 को संबंधी यूआरएल। यह गूगल को इंडेक्स करने में आसानी प्रदान करेगा।


How to solve Blogger m=1 problem

Blogspot m=1 issue fix करने के लिए आप google page technique का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके ज़रिए हम गूगल को यह बता सकते हैं कि https://www.example.com/ और https://www.example.com/?m=1 दोनों एक ही यूआरल हैं।।


हम गूगल सर्च कॉन्सोल के पैरामीटर टूल का इस्तेमाल करेंगे। खुद गूगल सर्च कॉन्सोल भी यह सेटिंग्स recommend करता है।


⚠ नोट : गूगल सर्च कॉन्सोल पैरामीटर टूल अब उपलब्ध नहीं है। लेटेस्ट सर्च एल्गोरिथ्म अपडेट में गूगल ने इस टूल को हटा दिया है। क्योंकि गूगल अब खुद-ब-खुद इस तरह के URLs को समझ जाएगा। इसीलिए अब आपको blogger m=1 problem के बारे में चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। इसकी चिंता गूगल करेगा।


पहले हमें गूगल को यह मैनुअली बताना पड़ता था कि https://aazadhindii.blogspot.com/ और https://aazadhindii.blogspot.com/?m=1 दोनों एक ही यूआरल हैं। परंतु अब ऐसा करने की जरूरत नहीं है। आप इसे पूरी तरह नज़रअंदाज कर सकते हैं।


🔥 महत्वपूर्ण नोट : हमने इस लेख से blogger URL se m=1 remove करने की स्क्रिप्ट हटा दी है। क्योंकि हमने देखा कि ऐसा करने से आपके वेबसाईट की SEO सेटंग्स पूरी तरह से खराब हो जाएगी, और आप अपने ब्लॉग की रैंकिंग्स भी खो देंगे। हम ऐसा नहीं चाहते।


यह भी पढ़ें : How to send scheduled messages in Whatsapp in Hindi


आपकी जानकारी के लिए मैं आपको यह बता देना चाहता हूं कि आपको blogspot blog m=1 problem के बारे में चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। यह जैसा है, उसे वैसे ही छोड़ दें। साथ ही, मेरी आपसे गुजारिश है कि HTML theme code में कोई भी बदलाव न करें। ऐसा करके आप अपने ब्लॉग के SEO को खराब कर देंगे।

 

Conclusion

हम सर्च कॉन्सोल में blogger blog ke last URL से m=1 को remove/delete नहीं कर सकते हैं। हम बस इसे छिपा सकते हैं, परंतु इससे आपके ब्लॉग पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, इसीलिए ऐसा ना करें। गूगल अब खुद ही यह काम पूरा करता है। आपको बस अपने कंटेट पर फोकस करना है।

अगर अब भी आपका कोई सवाल या सलाह है तो कमेंट बॉक्स में बेझिझक होकर हमें बताइये। आजाद हिन्दी ब्लॉग में वक्त देने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद ।

Muhammad Saif is the author and Editor of Aazad Hindi News Website.

एक टिप्पणी भेजें

कृप्या स्पैम ना करें। आपके कमेंट्स हमारे द्वारा Review किए जाएंगे । धन्यावाद !