Hum phool bhi hai talwar bhi hai poetry Lyrics in Hindi, English

Hum phool bhi hai talwar bhi hai poetry Lyrics in Hindi, English

Hum Phool bhi hai Talwar bhi hai Poetry


अस्सलामु अलैकुम दोस्तों! इस पोस्ट में आप मुफ्ती फज़ल गफूर की लिखी 'हम फूल भी हैं तलवार भी हैं' नज़म का हिन्दी लिरिक्स पढ़ने वाले हैं। साथ-ही मैंने आपके लिए एक विडियो भी एड कर दिया है। उम्मीद है कि आपको ये नज़म लिरिक्स पसन्द आएगी। इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें ।


Hum phool bhi hain talwar bhi hain poetry lyrics
A Muslim warrior sitting on the back of Horse.


🎯 Best Jihad (ज़िहाद) Poetry - #1


हम फूल भी हैं तलवार भी हैं लिरिक्स हिन्दी में


वो संगे गिरां जो हाईल है , रस्ते से हटाकर दम लेंगे !

हम राहे वफा के रहरू हैं , मंजिल पे ही जाके दम लेंगे !!


ये बात अयां है दुनिया पर , हम फूल भी हैं तलवार भी हैं !

या बज़्मे जहां महकायेंगे , या खूं में नहा कर दम लेंगे !!


अरबाब-ए हुकूमत से कह दो , ये अज़्म किया है हम सबने !

जो हक के मुकाबिल आएगा , हम उसको मिटा कर दम लेंगे !!


हम एक खुदा के काईल हैं , पिन्दार के हर बुत तोड़ेंगे !

हम हक के निशां है दुनियां में , बातिल को गिरा कर दम लेंगे !!


जो सीना-ए दुश्मन चाक करे , बातिल को मिटा कर ख़ाक करे !

ये रोज़ का किस्सा पाक करे , वो ज़र्ब लगा कर दम लेंगे !!


Hum Phool Bhi Hai Talwar Bhi Hai Lyrics


ये फितना-व-शर के परवरदां , तहज़ीब के सामान लाक करें !

हम बज़्म सजाने वाले हैं , हम बज़्म सजा कर दम लेंगे !!


ये अमरीकी दल्लाल भला , क्या ख़ाक डराएंगे हमको !

हम राहे वफा के रहरू हैं मंज़िल पे ही जा के दम लेंगे !!


इस देश के ज़र्रे - ज़र्रे को हम अपने खून से सींचेंगे !

अल्लाह की कसम इस धरती को गुलज़ार बना कर दम लेंगे !!


जिस खून-ए-शहीदां से अबतक गुलरंग हुई है ये ज़मीन !

उस खून के क़तरे-क़तरे से तूफ़ान उठा कर दम लेंगे !!


यह भी पढ़ें : एक बूढे बाप का दर्दनाक वाकिया | Islamic Waqia in Hindi


Hum Phool Bhi Hai Talwar Bhi Hai Mp3 Download



WriterMufti Fajal Gafoor



🎯 Best Jihad (ज़िहाद) Poetry - #2


Hum Phool Bhi Hai Talwar Bhi Hai Lyrics in English


Wo Sange Giran Jo Hayil Hai , Raste Se Hata Kar Dam Lenge !

Hum Rahe Wafa Ke Rahru Hain , Manzil Pe Hi Ja Ke Dam Lange !!


Ye Baat Ayan Hai Duniya Par , Hum Phool Bhi Talwar Bhi Hai !

Ya Bajme Jahan Mahkayenge , Ya Khoon Me Naha Kar Dam Lenge !!


Arbabe Huqoomat Se Kah Do , Ye Ajm Kiya Hai Hum Sabne !

Jo Haq Ke Mukabil Aayega , Hum Usko Mita Kar Dam Lenge !!


Hum ek Khuda Ke Kayil Hain , Pindar Ke Har But Todenge !

Hum Haq Ke Nishan Hain Duniya Mein, Batil Ko Gira Kar Dam Lenge !!


Jo Sina-e-Dushman Chak Kare ! baatil ko mita kar khaak kare !

Ye roj ka kissa paak kare , Wo zarb laga kar dam lenge !


हम फूल भी है तलवार भी है Nazm लिरिक्स


Ye fitna-o-shar ke parwardan , tahjeeb ke saaman laak karein !

Ham bajm sajane wale hain , hum bajm saja kar dam lenge !!


Ye americi dallal bhala , kya khaak darayenge humko !

Ham rahe wafa ke rahroo hain , manzil pe hi jaake dam lenge !!


Is desh ke jarre jarre ko hum apne khoon se sichenge !

Allah ki kasam is dharti ko gulzaar bana kar dam lenge !!


Jis khoon-e-shaheedan se abtak gulrang hui hai ye sarjameen !

Us khoon ke katre katre se toofan utha kar dam lenge !!


------------------- The End -------------------


यह भी पढ़ें : Hum dekhenge full lyrics in Hindi and English


Conclusion

दोस्तों , उम्मीद है कि आपको Hum Phool Bhi Hai Talwar Bhi Hai - Poetry Lyrics in Hindi and English पसन्द आया होगा । इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और ऐसे ही Poetry पढ़ने के लिए नीचे क्लिक करें :


✋ Read More Naat Here.


Topics Covered :

  1. Hum Phool bhi hain poetry
  2. Hum phool bhi hain talwar bhi hain lyrics
  3. Ye baat ayan hai duniya par lyrics
  4. Baatil ko mita kar dum lenge hindi lyrics

एक टिप्पणी भेजें

कृप्या स्पैम ना करें। आपके कमेंट्स हमारे द्वारा Review किए जाएंगे । धन्यावाद !